तू आवाज दे दोस्त…



वक्त की राहों में तुम भुला दो चाहे हमें,
पर हम तुमको न भूल पाएंगे,
तेरी दोस्ती की कसम ऐ दोस्त तू आवाज दे ख्वाबों में
हम हकीकत में चले आएंगे।

~आलोक अंश रिया


, , ,