न ख़ुशी अच्छी ऐ दिल…



न ख़ुशी अच्छी है ऐ दिल न मलाल अच्छा है,
यार जिस हाल में रखे वही हाल अच्छा है।

न ख़ुशी अच्छी ऐ दिल शायरी


, , ,